हर खेत में पानी योजना,हर खेत में पानी योजना हरियाणा, Sarkariyojna.info

• योजना का शुभारंभ – 25 दिसम्बर 2020 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा।

• इस योजना के तहत हरियाणा के किसानों को उनके खेत पर ही नहरी पानी तथा सीवरेज शोधन संयंत्र द्वारा उपचारित पानी उपलब्ध करवाया जाएगा।

• 9 सीवरेज शोधन संयंत्र (STP) तथा महेन्द्रगढ़ (नारनौल),चरखी दादरी, भिवानी और फतेहगढ़ जिलों की नहरों को चयनित किया गया है।

• हरियाणा में अन्नदाता के लिए मनोहर सौगातें हर खेत को पानी योजना से हरियाणा के किसान के खेतों में पानी पहुंचाया जा रहा है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हर खेत तक पानी पहुंचाने के लिए सभी उपायुक्तों को सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली पर फोकस करने के निर्देश दिए हैं।

•मुख्यमंत्री प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों की सूक्ष्म सिंचाई एवं परिवार पहचान पत्र के सम्बंध में आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में सभी उपायुक्त वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।

• मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा उद्देश्य प्रदेश के हर कोने में प्रत्येक खेत तक पानी पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली लगाने के लिए सरकार 85 प्रतिशत सब्सिडी प्रदान कर रही है। अधिक से अधिक किसानों को सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली अपनाने के लिए प्रेरित करें।

• उन्होंने कहा कि जहां पर नहरी पानी से सिंचाई की व्यवस्था है, वहां भी अधिक से अधिक किसानों को सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली अपनाने के लिए प्रेरित करें ताकि जिन क्षेत्रों में पानी की समस्या है, वहां के किसानों को भी खेतों के लिए अधिक से अधिक पानी उपलब्ध हो सके।

• मुख्यमंत्री ने सभी उपायुक्तों से उनके जिलों में सूक्ष्म सिंचाई परियोजना के सम्बंध में विस्तार से जानकारी ली और सूक्ष्म सिंचाई के लिए दक्षिण हरियाणा के 8 जिलों भिवानी, रेवाड़ी, चरखी दादरी, हिसार, सिरसा, महेंद्रगढ़, नूंह, पलवल पर विशेष फोकस करने के निर्देश दिए। इनमें से भी चार जिलों भिवानी, चरखी दादरी, महेंद्रगढ़ और रेवाड़ी जिलों पर और अधिक फोकस करते हुए योजना को क्रियान्वित करने के लिए कहा।

• मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान के साथ लगते जिलों में पानी की अधिक समस्या है, इसलिए इन जिलों में न केवल सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली को गति देने के लिए काम करें बल्कि इन जिलों में सिंचाई विभाग के पर्याप्त स्टाफ की नियुक्ति भी करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *