google-site-verification=kFF_GbTMjdJvyJNHI6thLREEW1qX4LmCzK2g8_p9rr8

पोषण अभियान

• भारत में कुपोषण को दूर करने के लिए भारत सरकार ने 0-6 वर्ष की आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के पोषण की स्थिति में सुधार लाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय पोषण मिशन (एनएनएम) की स्थापना और इसे चरणबद्ध तरीके से लागू करने को मंजूरी दे दी है।

पोषण अभियान के तहत वार्षिक लक्ष्य दिए गए हैं-

क्र.सं. उद्देश्य लक्ष्य
1बच्चों (0-6 वर्ष) में स्टंटिंग को रोकें और कम करें2% प्रति वर्ष
2बच्चों (0-6 वर्ष) में कुपोषण (कम वजन का प्रचलन) को रोकना और कम करना2% प्रति वर्ष
3छोटे बच्चों (6-59 महीने) में एनीमिया के प्रसार को कम करना3% प्रतिवर्ष
415-49 वर्ष की आयु वर्ग की महिलाओं और किशोरियों में एनीमिया के प्रसार को कम करना3% प्रतिवर्ष
5जन्म के समय कम वजन कम करें (LBW)2% प्रति वर्ष

पोषण अभियान के तहत निम्नलिखित घटक शामिल हैं :-

· कुपोषण दूर करने की दिशा में योगदान देने वाली विभिन्न योजनाओं का मानचित्रण।

· ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर अभिसरण समितियों का गठन।

· सूचना और संचार प्रौद्योगिकी सक्षम स्मार्ट फोन के माध्यम से रीयल टाइम मॉनिटरिंग।

· आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं (AWWs) को आईटी आधारित उपकरणों का उपयोग करने और AWWs द्वारा उपयोग किए जाने वाले रजिस्टरों को हटाने के लिए प्रोत्साहित करना।

· आंगनवाड़ी केंद्रों (AWCs) में बच्चों के विकास की नियमित निगरानी

• मासिक समुदाय आधारित कार्यक्रम और ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता और पोषण दिवस समुदाय की मदद से अभियान को जन आंदोलन में बदलना।

• फ़ायदे :- सभी राज्यों में महिलाओं और बच्चों के पोषण की स्थिति में सुधार करना।

• पात्रता :- आंगनबाड़ी सेवा योजना के सभी पात्र हितग्राही।

• दस्तावेज़ :- किसी दस्तावेज की आवश्यकता नहीं है।

• किससे संपर्क करें :- निकटतम आंगनवाड़ी केंद्र

बाल विकास परियोजना अधिकारी (सीडीपीओ)।

• शिकायत निवारण

जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ)

प्रधान कार्यालय, हेल्पलाइन (0172-2608746

Leave a Comment