google-site-verification=kFF_GbTMjdJvyJNHI6thLREEW1qX4LmCzK2g8_p9rr8

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना,सौभाग्य योजना

• प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना या सौभाग्य योजना 22 दिसम्बर 2017 को शुरू हुई।

• प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना,सौभाग्य योजना,pradhanmantri sahaj bijli har ghar yojana, sobhagya yojana, प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना क्या है,प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना pdf के बारे में आपको पूरी जानकारी विस्तार से बताई जाएगी। आप इस लेख को पूरा अवश्य पढ़ें।

• इस योजना के माध्यम से 31 दिसंबर 2018 तक मध्यप्रदेश के प्रत्येक घर को बिजली प्रदान की जाएगी।

• जैसे की आप सब लोग जानते है कि हमारे देश में बहुत से ऐसे लोग हैं जिनके घर पर अभी भी बिजली कनेक्शन नहीं है और वह लोग आर्थिक रूप से गरीब होने के कारण बिना बिजली के ही जीवन यापन कर रहे है तथा घरेलू चिमनी से रोशनी का उजाला करके जीवनयापन कर रहे हैं ।जिससे उनको बहुत समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन सभी समस्या को दूर करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना को शुरू किया गया है।

• इस योजना के तहत देश के जिन ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो में गरीब परिवारों के घरो में बिजली कनेक्शन नहीं है उन्हें मुफ्त में बिजली कनेक्शन उपलब्ध करना और उनके घरो को रोशन करना जिससे वह आसानी से अपना जीवनयापन कर सकें।

• आज के युग में बिजली की पहुंच निश्चित रूप से दैनिक घरेलू कार्यों और मानव विकास के सभी पहलुओं में आम लोगों के जीवन की गुणवत्ता पर सकारात्मक प्रभाव डालती है।

• हर घर तक बिजली की पहुंच सुनिश्चित होने से बिजली उपकरणों की हर घर तक उपलब्धता होने से लोग मूलभूत सुविधाओं से बेहतर जिंदगी गुजार रहे हैं।

• जिसके परिणामस्वरूप इनडोर प्रदूषण में कमी आएगी। घरेलू प्रदूषण में कमी से लोगों को स्वास्थ्य संबंधी खतरों से बचाया जा सकेगा। इसके अलावा, बिजली की पहुंच से देश के सभी हिस्सों में कुशल और आधुनिक स्वास्थ्य सेवाएं स्थापित करने में मदद मिलेगी। सूर्यास्त के बाद रोशनी विशेष रूप से महिलाओं के लिए बढ़ी हुई व्यक्तिगत सुरक्षा की भावना भी प्रदान करती है और सूर्यास्त के बाद सामाजिक और आर्थिक गतिविधियों में भी वृद्धि होती है। बिजली की उपलब्धता से सभी क्षेत्रों में शिक्षा सेवाओं को बढ़ावा मिलेगा और सूर्यास्त के बाद गुणवत्तापूर्ण प्रकाश व्यवस्था से बच्चों को पढ़ाई पर अधिक समय बिताने और संभावित करियर में आगे बढ़ने में सुविधा होगी।

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना & सौभाग्य योजना का लक्ष्य

• सौभाग्य योजना का मुख्य लक्ष्य यह है कि आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए मुफ्त बिजली कनेक्शन लेना, तत्काल पंजीकरण के लिए गांवों में शिविरों का आयोजन करना, मोबाइल ऐप पंजीकरण और वेब आधारित निगरानी करना।

• प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत भारतीयों के जीवन को रोशन कर रही है केंद्र सरकार।

• बिजली कनेक्शन के लिए हर गांव में कैंप/शिविर लगाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों को बिजली कनेक्शन प्रदान करना।

सौभाग्य योजना की विशेषताएं

✅ आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवारों के लिए मुफ्त मीटर कनेक्शन देना।

✅ तत्काल पंजीकरण के लिए गाँवों में शिविरों का आयोजन करना।

✅ सौभाग्य योजना 25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी समारोह के अवसर पर शुरू की गई है।

✅ प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना का लक्ष्य 2019 तक देश भर में हर घर को बिजली कनेक्शन प्रदान करके सभी को 24×7 बिजली प्राप्त करना था।

✅ सौभाग्य योजना के तहत देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में हर घर में बिजली की सुविधा उपलब्ध कराना।

✅ ऐसे सभी 4 करोड़ निर्धन परिवारों को बिजली कनेक्शन प्रदान किया गया जिनके पास उस कनेक्शन नहीं लिया हुआ था।

✅ इस योजना का लाभ गाँव के साथ-साथ शहरी लोगों को भी प्रदान किया गया।

✅ इस योजना के तहत केन्द्र सरकार द्वारा बैटरी सहित 200 से 300 वाट क्षमता का सोलर पावर पैक दिया गया, जिसमें हर घर के लिये 5 LED बल्ब, एक पंखा भी शामिल था।

✅ बिजली के इन उपकरणों की देख-रेख 5 सालों तक सरकार केन्द्र अपने खर्च पर करेगी।

✅ बिजली कनेक्शन के लिये 2011 की सामाजिक,आर्थिक और जातीय जनगणना को आधार माना गया था। जो लोग इस जनगणना में शामिल नहीं थे, उन्हें 500 रुपए में कनेक्शन दिया गया और इसे 10 किश्तों में वसूला जाएगा।

✅ सभी घरों को बिजली पहुँचाने के लिये प्री-पेड मॉडल अपनाया गया था।

Leave a Comment