google-site-verification=kFF_GbTMjdJvyJNHI6thLREEW1qX4LmCzK2g8_p9rr8

राजीव गांधी कृषक साथी योजना

• राजीव गांधी कृषक साथी योजना 09 दिसंबर 2009 को शुरू हुई।



राजीव गांधी कृषक साथी योजना, राजीव गांधी कृषक साथी योजना राजस्थान,राजीव गांधी कृषक मित्र,rajiv gandhi krishak sathi sahayata yojana,rajiv gandhi krishak sathi sahayata yojana pdf,rajiv gandhi krishak sathi sahayata yojana list, मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना कब शुरू हुई,rajiv gandhi krishak sathi sahayata yojana kab suru hui के बारे में आपको पूरी जानकारी विस्तार से बताई जाएगी। आप इस लेख को पूरा अवश्य पढ़ें।

Rajiv Gandhi Krishak Sathi Yojana

• राज्य में 30 अगस्त, 1994 से कृषि कार्य करते समय दुर्घटना होने वाले किसानों और खेतीहर को आर्थिक सहायता देने के लिए कृषक साथी योजना कृषि विपणन ईडी द्वारा शुरू की गई थी तथा इस योजना से पूर्व 22 खातों से ”किसान जीवन कल्याण योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता दी जा रही थी। राज्य सरकार के आदेश क्रमांक प. 4 (78)/कृषि/ग्रुप-2/2002 दिनांक 09.12.2009 के द्वारा ”किसान जीवन कल्याण योजना” को आश्रित कर ”राजीव गांधी कृषक साथी सहायता योजना” के रूप में संचालित है।

• राज्य सरकार द्वारा किसानों की आय में बढ़ोतरी के साथ उन्हें हरसंभव मदद प्रदान की जा रही है। कृषि विपणन सहित कृषि कार्य के दौरान दुर्घटना में मृत्यु/अंगभंग की स्थिति में किसानों, खेतीहर मजदूरों और पल्लेदारों को राजीव गांधी कृषक साथी सहायता योजना के तहत आर्थिक सहायता दी जा रही है।

• योजना में राज्य के किसान/खेतीहर लाएंगे/हम्माल/पल्लेदार द्वारा कृषि कार्य या मण्डी प्रांगण में विपणन कार्य करते समय गांव से मांडी तक विलो करने के अगले दिन तक लौटते हुए दुर्घटना में मृत्यु या अंग-भंग होने पर राजस्थान राज्य कृषि विपणन द्वारा कृषि फसल मंडी में अपराधियों के जरिए सहायता प्रदान की जाती है।

• राज्य सरकार किसान कल्याण के लिए निरंतर प्रयासरत हैं। साथ ही, यह यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसानों के लिए संचालित योजनाओं को लाभ पारदर्शी तरीके से उन तक पहुंचे। कृषि विभाग की सभी योजनाओं के लिए आवेदन ऑनलाइन लिए जा रहे हैं। किसानों को शीघ्र लाभ मिले इसके लिए आर्थिक सहायता सीधे बैंक खाते में जमा की जा रही है।

• मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के प्रशासन में पारदर्शिता के सिद्धांत की पालना के क्रम में राजीव गांधी सहायता योजना के तहत सहायता राशि अब सीधे ही किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर होना शुरू हो गया है।

• मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि नई पारदर्शी व्यवस्था में काश्तकारों को सहायता राशि सीधे बैंक खाते में जमा होने की व्यवस्था से किसानों को कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने होंगे और योजनाओं का लाभ वितरण पारदर्शी हो सकेगा।

• राजीव कृषक साथी योजना के ऑनलाइन आवेदन ‘राज किसान साथी पोर्टल’

• राजस्थान सरकार ने किसानों के लिए राजीव गांधी कृषक साथी योजना चलाया है…जिसका लाभ दुर्घटनाग्रस्त किसानों या मृत किसानों के परिजनों को मिल सकेगा,हालांकि चुनौति इस बात की है…कि इस योजना के बारे में किसानों को जानकारी कैसे पहुंचाई जाए।

• राजस्थान सरकार ने राजीव गांधी कृषक साथी सहायता योजना का दायरा बढ़ाया।इससे इस योजना में खेत पर काम करते समय अन्य कई परिस्थितियों में दुर्घटना होने पर भी पीड़ित किसान तथा खेतिहर मजदूर को योजना का लाभ मिल सकेगा।

राजीव गाँधी कृषक साथी सहायता योजना के तहत निम्नलिखित सहायता प्रदान की जाएगी

➡️ दुर्घटना में मृत्यु होने की दशा में 2,00,000/- रूपये।

➡️ दुर्घटना में अपंग हो जाने पर 5,000/- से लेकर 50,000/- रूपये।(अपंगता/ दिव्यांगता अवस्था के अनुसार)

• किसानों/कृषि मजदूर की कार्यस्थल पर दुर्घटना के कारण के मृत्यु होने पर 2 लाख रूपये की तथा घायल होने पर 50 हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी जाती है।

Leave a Comment